Monday, May 16, 2022
HomeTechComputerमाउस का मतलब क्या होता है?

माउस का मतलब क्या होता है?

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमें बाहरी दुनिया में चीजों को पकड़ने उठाने में जाने इत्यादि कार्य के लिए अपने हाथ का इस्तेमाल करना होता है ,वही यदि हम यह कंप्यूटर पर कार्य कर रहा हो तो आप कैसे करेंगे, क्योंकि कंप्यूटर के पास तो हाथ ही नहीं होते ,फिर यह कैसे कार्य करेगा। आपको उसके बारे में विस्तार पूर्वक हम बताएंगे तो चलिए आपको बताते हैं। आपको बता दें कि कंप्यूटर के पास इन सभी कार्यों के लिए हाथ होते हैं जी हैं ,अपने सही पढ़ा इस हाथ को आप माउस mouse के नाम से जानते हैं तो आइए जानते हैं, कि यह माउस mouse क्या है। और उसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं.

माउस क्या है

आपको बता दें कि माउस mouse एक इनपुट डिवाइस है जिसका नाम Pointing Device डिवाइस है इसका उपयोग कंप्यूटर स्क्रीन पर आइटम को चुनने उनकी तरफ जाने के लिया और फाइल्स  खोलने और बंद करने में किया जाता है। माउस mouse के द्वारा यूजर कंप्यूटर को निर्देश देता है। इसके द्वारा यूजर कंप्यूटर स्क्रीन पर कहीं भी पहुंच सकता है.

 आपको बता दें कि कंप्यूटर माउस mouse आमतौर पर एक चूहे की तरह दिखता है इसलिए इसको लोग माउस mouse कहते हैं क्योकि यह छोटा तथा आयताकार होता है, जो एक तार के द्वारा कंप्यूटर से जुड़ा होता है. 

इसमें तीन बटन होते हैं. जो इस प्रकार काम करते हैं पहले और दूसरे बटन को प्राइमरी बटन (लेफ्ट बटन) और सेकेंडरी बटन (राइट बटन) के नाम से जाना जाता है।. इनको आम भाषा में Right Click एवं Left Click कहते है.तीसरे बटन को Scroll Wheel या चकरी भी कहते हैं।

कम्प्यूटर माउस computer mouse के विभिन्न प्रकार –

आपको बता दें कंप्यूटर माउस computer mouse पांच प्रकार में बांटे गए हैं जो इस प्रकार हैं नीचे दिए गए हैं जिन्हें आप देखकर समझ सकते हैं.

Mechanical Mouse

Optical Mouse

Wireless Mouse

Trackball Mouse

Stylus Mouse

Read More: UAT ka Full Form Kya Hota Hai

1. Mechanical Mouse

आपको बता दें कि इस माउस Mouse का आविष्कार सन 1972 में बिल इंग्लिश Bill English ने किया था मेकेनिकल माउस निर्देश के लिए एक Ball का इस्तेमाल करता था इसलिए इसे Ball Mouse उसे भी कहा जाता था इस Ball को दाएं बाएं और ऊपर नीचे घुमाया जा सकता था इसलिए इसे मैकेनिकल माउस Mechanical Mouse नाम से पुकारा जाता था.

2. Optical Mouse

इस optical Mouse में एलईडी LED लाइट एमिटिंग डायोड light emitting diode  तथा डीएसपी DSP डिजिटल सिगनल प्रोसेसिंग digital signal processing तकनीक पर यह माउस कार्य करता है।  ऑप्टिकल माउस optical Mouse में कोई भी बोल नहीं होती है, इसकी जगह पर एक छोटा सा बल्ब लगा होता है इसलिए माउस को हिलाने पर पॉइंटर हलचल करता है तथा इसमें में लगा बटन के द्वारा हम कंप्यूटर को निर्देश देते हैं. आजकल इसी प्रकार के optical Mouse इस्तेमाल होता है इन्हें एक तार के द्वारा कंप्यूटर से जोड़ा जाता है तो इससे बिजली की आपूर्ति भी करती है। ptical Mouse माउस इस्तेमाल में आसान होता है.

3. Wireless Mouse

वायरलेस माउस Wireless mouse वह होते हैं ,जो बिना तार के काम करते हैं ,इसलिए इसे कॉर्डलेस माउस cordless mouse भी कहते हैं. यह  माउस में रेडियो फ्रिकवेंसी की तकनीक पर काम करते हैं। मगर इसकी बनावट ऑप्टिकल माउस optical mouse की तरह होती है. इसलिए इसका उपयोग करने के लिए एक ट्रांसमीटर रिसीवर transmitter receiver की जरूरत होती है। ट्रांसमीटर transmitter तो माउस में ही बना होता है ,और रिसीवर receiver को अलग से बनाया जाता है. इस माउस माउस को चलाने के लिए बैटरी की आवश्यकता होती है.

4. Trackball Mouse

आपको बता दें कि इस माउस की बनावट भी कुछ ऑप्टिकल माउस ऑप्टिकल माउस की तरह होती है. मगर इसमें कंट्रोल करने के लिए ट्रैकबॉल trackball का इस्तेमाल होता है। कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए यूजर को अपनी उंगलियां अंगूठे से बोल को घुमाना पड़ता है. यह mouse में ज्यादा कंट्रोल नहीं देता है इसे चलाने में समय भी लगता है इसे ही हम ट्रैकबॉल माउस trackball mouse कहते हैं.

Functions of Mouse

आपको बता दें कि Mouse एक मल्टीफंक्शनल डिवाइस multifunctional device है जिसकी मदद से हम कई कार्य कर सकते हैं Mouse प्रयोग कंप्यूटर स्क्रीन पर आइटम को उठाने ,पकड़ने, रखने या किसी फाइल को खोलने या बंद करने के लिए अधिक किया जाता है. लेकिन यह सब कार्य कैसे किए जाते हैं इन्हें करने के लिए माउस कुछ क्रियाएं करता है। यह क्रिया क्या है इन्हें कैसे किया जाता है ,चलिए इनके बारे में आपको बताते हैं.

1. Pointing

जब Cursor को कंप्यूटर स्क्रीन पर  मौजूद किसी आइटम की तरफ ले जाया जाता है और प्वाइंटर उसे आइटम को छूता है तो एक बॉक्स दिखाई देता है जो हमें उस आइटम के बारे में बताता है इसे संपूर्ण कार्य को Pointing  कार्य कहते हैं, इस कार्य को Hoveringके नाम से जाना जाता है.

2. Selecting

जब कंप्यूटर स्क्रीन पर किसी आइटम पर Pointing करने के बाद माउस से लेफ्ट बटन को एक बार दबाने पर वह आइटम सेलेक्ट हो जाता है इसे ही सिलेक्टिंग Selecting कहा जाता है, जब कोई आइटम सेलेक्ट होता है तो उसे चारों तरफ एक वर्ग बन जाता है जिससे पता चलता है कि यह Item Select किया हुआ है.

3. Clicking

Mouse Button बटन को दबाने के कार्य को हम क्लिक Click करने के लिए किसी भी कहते हैं। क्लिक click  करने के लिए किसी भी Mouse Button को दबाएं और उसे छोड़ दीजिए।

 बस  Click दो प्रकार का होता है,

 1. लेफ्ट क्लिक: माउस के लेफ्ट बटन को प्रेस करने को लेफ्ट क्लिक कहते हैं।जिससे हम सिंगल क्लिक डबल क्लियर ट्रिपल क्लिक अलग-अलग काम करते हैं.

 2 . राइट क्लिक Right click माउस को राइट बटन right button दबाने पर राइट क्लिक चलाता है किसी आइटम पर राइट क्लिक Right click करने से उस आइटम के साथ किए जाने वाले कार्य को एक लिस्ट खुलकर आती है.

आज हमने इस पोस्ट में जाना की माउस क्या होता है। माउस कैसे काम करता है। माउस कितने प्रकार के होते हैं, यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो  अपने दोस्तों के साथ ही से जरूर शेयर करें अगर आपका कोई सुझाव है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments