Monday, May 16, 2022
Homefull formsबीपीओ BPO का फुल फॉर्म हिंदी में क्या है?

बीपीओ BPO का फुल फॉर्म हिंदी में क्या है?

BPO की full form क्या है, BPO मे क्या काम होता है , और BPO का क्या मतलब होता है, और BPO का use कैसे लिए किया जाता है,अगर आपका answer नहीं है तो आपको उदास होने की कोई जरुरत नहीं है ,क्योंकि आज हम आपको इस पोस्ट में आपको भी पीके पूरी जानकारी देंगे तो चलिए आपको इसके बारे में विस्तार पूर्वक बताते हैं.

जो लोग बीपीओ BPO में जो करना चाहते हैं उनके लिए यह जाना बहुत जरूरी है, कि बीपीओ BPO कैसे काम करता है ,आपको बता दें कि है एक ऐसी इंडस्ट्री industry है. जिसमें इतना तरह के रोल आपको दिए जाते हैं यदि वर्तमान की बात करें तो इस इंडस्ट्री में जॉब करने के लिए कहीं कहीं का डिटेल उत्साहित होते हैं तो इस चेहरे को पार्ट टाइम फुल टाइम जॉब दोनों के रूप में देखा जा सकता है,

बीपीओ BPO फुल फॉर्म हिंदी में

आपको बता दें कि बीपीओ BPO का फुल फॉर्म बिजनेस प्रोसेसिंग Business Processing Out Source आउट सोर्स होता है. BPO एक ऐसी आउट सोर्स प्रक्रिया है जिसमें थर्ड पार्टी प्रोवाइडर को किसी प्रकार के कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर बिजनेस को चलाने के लिए शामिल किया जाता है.

BPO एक तरह की आउटसोर्सिंग प्रक्रिया है जो कि IT sector आईटी सेक्टर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है बीपीओ BPO का मुख्य उद्देश्य कम वेतन में लोगों से काम से निकलवाना होता है बाहर की बहुत सारी बड़ी-बड़ी कंपनियां अपनी सेवाएं दूसरे देश में आउटसोर्सिंग करती हैं जहां पर बड़ी संख्या में कम वेतन पर कर्मचारी मिल जाते हैं.

बीपीओ BPO को आमतौर पर बैक ऑफिस Back Office को आउटसोर्स के रूप में classified किया जाता है, जिसमें आंतरिक व्यवसाय internal business शामिल होता है, जैसे लेखा वित्त और मानव संसाधन accounting finance और human resource, आप बीपीओ BPO को इस क्षेत्र का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा कह सकते हैं, क्योंकि आज के समय में कई बड़ी कंपनियों ने महत्वपूर्ण सेवाओं को आउटसोर्स करके पुरी करती है.

बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्स Business Process Outsource में फ्रंट ऑफिस front office आउटसोर्स में कॉल सेंटर जैसे ग्राहक सेवा शामिल है, आपको बीपीओ BPO में अगर कोई भी company अपना contract देश से बाहर करती है तो उसे offshore आउटसोर्स कहा जाता है. और अगर company किसी पड़ोसी देश की company से contract करती है तो उसे nearshore आउटसोर्स कहा जाता है.

ऐसी सभी कंपनियों का उद्देश्य आपको कम कीमत पर अच्छी सेवाएं देना है, उदाहरण के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका United States of America में, कई कंपनियां हैं जिनकी सेवाएं उच्च लागत Hight Cost वाले कर्मचारियों के कारण भारत को आउटसोर्स करती हैं, और हमारी भारत कई सेवाएं हैं में आउटसोर्स किया गया.

Read More: RDBMS ka Full Form Kya Hota Hai

BPO क्या होता है?

आपको बता दें कि आज के समय में शहरों में आउटसोर्सिंग का काम काफी तेजी से हो रहा है पर खासकर आईटी कंपनियों द्वारा यह किया जाता है ,इसमें क्या नए नाम शामिल है जो कि दूसरी कंपनियों के लिए दिए गए काम को करते हैं आपके नेटवर्क संबंधित जब कोई समस्या पैदा होती है तो आप कस्टमर केयर को फोन लगाते हैं और सिर्फ कस्टमर केयर Executive हमारी मदद करते हैं और हमारे प्रॉब्लम को सॉल्व कर देते हैं, इस तरह के कामों को हम भी BPO के अंतर्गत मानते हैं, आपको सुनकर हैरानी होती अमेरिका के लोग कॉल प्रॉब्लम के लिए कस्टमर केयर एयरटेल से बात करते हैं उसका सेंटर भी हमारे देश भारत में ही होता है, यहां के लड़के ही Executive के रूप में उन्हीं के एक्सीडेंट यानी कि उनकी जुबान में बात करते हैं.

जिससे कि उन्हें पता नहीं चलता कि कि जो जिससे वह बात कर रहे हैं वह अमेरिका का है या भारत में इसका पता मुझे तब चला जब मैं एक डिस्कवरी Discovery program का प्रोग्राम देख रहा था और जिस में एक विदेशी बैठा हुआ था। और कुछ लड़के से बातचीत करके पता चला कि वह लड़के अमेरिकन कस्टमर केयर एग्जीक्यूटिव के रूप में काम करते हैं और वहां के Consumersकी मदद करते हैं इसके अलावा बीपीओ में और भी कई तरह के काम किए जाते हैं जैसे की डिजाइनिंग के बिल में होने वाले रिवर्स इंजीनियरिंग वाले काम,जो Third party के रूप में काम करने के लिए BPO के अंतर्गत भेजे जाते हैं और उनसे रिवर्स Engineering के लिए काम किया जाता है.

आपको बता दें कि बीपीओ BPO बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग Business Process Outsourcing एक ऐसा व्यापार है जहां एक संगठन किसी अन्य कंपनी को अपना टास्क पूरा करने के लिए hire करती है. किसी कंपनी का जो मूल व्यवसाय है और इस मूल व्यवसाय के अलावा को कोई भी अतिरिक्त काम जो उस कंपनी की जरूरत है, लेकिन वह उस कंपनी का हिस्सा नहीं है। तो ऐसे में कंपनी अपना यह काम किसी अन्य कंपनी को सौंप देती है, इस सारी प्रक्रिया को हम भी BPO कहते हैं इसे हम अपने एक साधारण उदाहरण देकर समझ सकते हैं आपको बता दें कि वोडाफोन कंपनी की वोडाफोन एक बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसका मूल व्यवसाय अपने ग्राहकों को मोबाइल नेटवर्क सेवा प्रदान करना जिससे ग्राहक कॉलिंग ऐसी आदि कर सकते हैं सेवा का लाभ उठा सकें.जो इस काम में विशेष जानकारी रखते है तथा इसी प्रकार की service देना उनका काम है.

BPO Services में 50% की बढ़त America और ब्रिटेन जैसे देश, कुशल और Cheap workers की वजह से अपना ज्यादातर काम भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान और एशिया के दुसरे देशों से करवाते हैं. दुनिया के कुल BPO बाजार का करीब 56 Percent भारत में है.

बीपीओ के लाभ

वित्तीय लाभ Financial Benefits

संगठन अक्सर देखते हैं कि एक अवसर प्रदाता व्यवसाय को कम लागत पर संसाधित कर सकता है।

FLEXIBILITY

BPO अनुबंध उन्हें लचीलेपन FLEXIBILITY के साथ व्यावसायिक प्रक्रियाओं को पूरा करने की अनुमति देते हैं, जिससे वे बदलते बाजार की गतिशीलता के लिए बेहतर प्रतिक्रिया दे सकते हैं।

Competitive Advantage-

BPO संगठनों को उन प्रक्रियाओं को अवसरों के रूप में उपयोग करने की अनुमति देता है जो उनके व्यवसाय और मिशन के लिए महत्वपूर्ण नहीं हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments