Monday, May 16, 2022
Homefull formsBMI का फुल फॉर्म क्या होता है ?

BMI का फुल फॉर्म क्या होता है ?

आज हम बात करेंगे BMI क्या होता है,I BMI का फुल फॉर्म क्या होता है,BMI को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

BMI का फुल फॉर्म?

  • BMI फुल फार्म का Body Mass Index होता है. हिंदी में बॉडी मास इंडेक्स होता है.
  • आप इसे एक सूत्र के रूप में जान सकते हैं जो वजन निर्धारित करने के लिए प्रभावी है, क्योंकि आमतौर पर लोगों को यह नहीं पता होता है कि उन्हें कितना वजन करना चाहिए।
  • जहां आप इसके इस्तेमाल से आसानी से पता लगा सकते हैं कि आपका वजन आपके शरीर के हिसाब से कितना होना चाहिए।
  • आपका वजन कितना कम या कितना है, यह दर्शाता है कि आपका शरीर आपको किस तरह के संकेत दे रहा है।
  • अगर आपका बीएमआई- बॉडी मास इंडेक्स सही नहीं है, तो समझ लें कि आपको डायबिटीज, स्ट्रोक और हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों का खतरा है।
  • उदाहरण के लिए आपको बता दें कि भारतीयों के लिए उनका बॉडी मास इंडेक्स 22.1 से ज्यादा नहीं होना चाहिए।
  • किसी भी युवा व्यक्ति के लिए उसकी लंबाई के अनुसार शरीर का अपेक्षित वजन होना सही माना जाता है, क्योंकि यह आपके शरीर की संरचना को सही रखता है।
  • इसलिए आपके लिए यह जानना बहुत जरूरी है, कि अधिक वजन होने या मोटापे का शिकार होने से पहले आप अपने वजन पर नियंत्रण रखें, नहीं तो यह जोखिम भरी स्थिति को जन्म दे सकता है।

Read More: RBC ka Full Form Kya Hota Hai

बीएमआई श्रेणियां

  1. लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि बॉडी इंडस कितनी होनी चाहिए, जिससे हमें पता चल सके कि हम स्वस्थ हैं या नहीं।
  2. अगर बॉडी मास इंडेक्स 18.5 से कम है तो:-
  3. अगर आपकी लंबाई और वजन के आधार पर आपका बॉडी मास इंडेक्स 18.5 से कम है तो समझ लीजिए कि आपका वजन सामान्य से कम है।
  4. और आपको सलाह दी जाती है कि इसे बढ़ाने का प्रयास करें।
  5. बॉडी मास इंडेक्स 18.5 से 24.9 के बीच:-
  6. अगर आपका बॉडी मास इंडेक्स लेवल 18.5 से 24.9 के बीच है तो यह बहुत अच्छी स्थिति मानी जाती है।
  7. क्योंकि इस पोजीशन में आपका वजन बिल्कुल फिट रहता है, और आपको बस इसे हमेशा बनाए रखने की जरूरत होती है।

Read More: ABG ka Full Form Kya Hota Hai

बॉडी मास इंडेक्स 25 से ऊपर:-

अगर आपका बॉडी मास इंडेक्स 25 या इससे ऊपर है तो आपको यहां से सावधान हो जाना चाहिए,

क्योंकि हम आपको बता दें कि इस स्थिति में आपको मधुमेह 2, हृदय रोग होने की संभावना अधिक होती है।

जबकि बॉडी मास इंडेक्स 30 से अधिक होने पर, आपको मोटापे के सभी दुष्प्रभावों के लिए तैयार रहना चाहिए।

बॉडी मास इंडेक्स की गणना कैसे की जाती है?

  • बीएमआई- बॉडी मास इंडेक्स की गणना करने का सबसे आसान तरीका, हम आपको उदाहरण के लिए बताते हैं कि यदि आपका वजन 65 किलो है और लंबाई 5.2 फीट यानि 1.58496 मीटर है, तो आप 65/1.5 8496 × 1.5 8496 करके इसके बॉडी मास इंडेक्स की गणना कर सकते हैं। ,
  • जो परिणाम आएगा वह आपका बॉडी मास इंडेक्स होगा।
  • इसके अलावा आपको यह भी बता दें कि बॉडी मास इंडेक्स को मापने के लिए आप टेप की मदद से अपनी लंबाई इंच में माप सकते हैं।
  • इसके लिए आप बस दीवार के पास सीधे खड़े हो जाएं और पेंसिल की मदद से अपने सिर के पास की दीवार पर निशान बना लें, फिर आप आसानी से इसकी लंबाई माप सकते हैं।
  • आपको बता दें कि अधिक सटीक माप के लिए, आप स्किनफोल्ड थिकनेस मेजरमेंट अंडरवाटर वेटिंग और बायोइलेक्ट्रिकल इम्पीडेंस एनालिसिस का विकल्प चुन सकते हैं।
  • लेकिन आपको यह जानना होगा कि ये सभी तरीके आसानी से उपलब्ध नहीं होते हैं और काफी महंगे भी होते हैं।
  • जहां आप इसके बजाय बॉडी कंपोजिशन एनालिसिस मशीन से असेसमेंट प्राप्त कर सकते हैं।

Read More: EDD ka Full Form Kya Hota Hai

सामान्य बीएमआई क्या है?

  1. भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मानक के अनुसार, यदि बॉडी मास इंडेक्स 23 से कम है, तो यह सामान्य है, 30 से अधिक अधिक वजन और 25 से अधिक है तो इस बॉडी मास इंडेक्स वाली महिलाओं को मोटापे की श्रेणी में रखा गया है।
  2. यदि आप यह नहीं जानते हैं, तो बता दें कि पुरुषों और महिलाओं के लिए बॉडी मास इंडेक्स अलग है और इसे 100% सटीक माना जा सकता है।
  3. इस पैमाने के लिए केवल वजन और ऊंचाई होती है जबकि शरीर के वजन की मात्रा और मांसपेशियों की सामग्री नहीं होती है।
  4. जैसा कि आप जानते हैं कि एक महिला के शरीर में पुरुषों की तुलना में अधिक वसा होती है, लेकिन देखा जाए तो बॉडी मास इंडेक्स समान है।
  5. बॉडी मास इंडेक्स पर नजर रखकर आप अपने वजन को नियंत्रित कर सकते हैं।
  6. अगर आप अधिक वजन वाले हैं या मोटापे के शिकार हैं तो पहले मोटापे पर नियंत्रण रखें।
  7. अगर आपका बॉडी मास इंडेक्स अच्छा है तो पौष्टिक आहार और व्यायाम की मदद से आप बाद में अपना वजन बढ़ा सकते हैं।
  8. यदि आपका बॉडी मास इंडेक्स स्वस्थ वजन का संकेत देता है, तो कमर का माप लेना और भी महत्वपूर्ण हो जाता है।
  9. यदि आपकी कमर 80 सेमी से अधिक है, तो आपको स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से पीड़ित होने का उच्च जोखिम है।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

Read More: MC ka Full Form Kya Hota Hai

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments