Monday, May 16, 2022
Homefull formsASM का फुल फॉर्म क्या होता है ?

ASM का फुल फॉर्म क्या होता है ?

हम सभी ने स्टेशन मास्टर का नाम सुना है। कई लोगों ने अपनी यात्रा के दौरान स्टेशन मास्टर को एक पैनल पर लाल, हरी, पीली रेखाओं और बत्तियों की ओर इशारा करते हुए भी देखा है।

जो किसी भी समय उस स्टेशन पर आने वाली ट्रेनों की आवाजाही के लिए सिग्नल होते हैं। लेकिन ज्यादातर लोगों को यह अच्छी तरह से समझ में नहीं आता है तो ,आज हम बात करेंगे ASM क्या होता है, ASM का फुल फॉर्म क्या होता है, ASM को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

ASM का फुल फॉर्म

ASM का फुल फॉर्म Assistant Station Master होता है। हिंदी में असिस्टेंट स्टेशन मास्टर कहा जाता है।

असिस्टेंट स्टेशन मास्टर क्या होता है ?

असिस्टेंट स्टेशन मास्टर किसी भी रेलवे स्टेशन का एक महत्वपूर्ण और सबसे सम्मानित अधिकारी होता है। स्टेशन मास्टर स्टेशन पर सभी प्रकार की कार्य गतिविधियों के लिए जिम्मेदार होता है। जिस स्टेशन पर उसे नियुक्त किया जाता है, उसके सुचारू, सुरक्षित और कुशल संचालन के लिए स्टेशन मास्टर जिम्मेदार होता है। उनका काम दूसरों की निगरानी करना, मार्गदर्शन प्रदान करना है।

असिस्टेंट स्टेशन मास्टर के लिए योग्यता

पहले 12वीं पास।

बारहवीं कक्षा एक तरह का फाउंडेशन है जो आपको उच्च शिक्षा के लिए तैयार करता है। ज्यादातर बच्चे इसी दौरान तय करते हैं कि उन्हें आगे क्या करना है। इसलिए सबसे पहले आप 12वीं अच्छे अंकों से पास करें।

अब ग्रेजुएशन पूरा करें।

स्टेशन मास्टर बनने के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक है। तो अगला कदम ग्रेजुएशन पूरा करना होगा। आप किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएट हैं, आप स्टेशन मास्टर बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं। न्यूनतम प्रतिशत की भी कोई शर्त नहीं है।

Read More: ESI ka Full Form Kya Hota Hai

कंप्यूटर का बुनियादी ज्ञान प्राप्त करें।

आज हर काम कंप्यूटर computer की मदद से होता है। रेलवे में भी हर जगह कंप्यूटर का इस्तेमाल होता है। इसलिए एक स्टेशन मास्टर के लिए कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होना जरूरी है। इसके लिए आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कंप्यूटर में सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं।

क्षेत्रीय भाषा का ज्ञान एक प्लस पॉइंट है

रेलवे को 17 जोन में बांटा गया है। आप जिस क्षेत्र के लिए आवेदन कर रहे हैं उस क्षेत्र में प्रचलित भाषा का ज्ञान बहुत उपयोगी है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि स्टेशन मास्टर को स्टाफ और यात्रियों पर लगभग सभी लोगों के संपर्क में आना पड़ता है। स्थानीय भाषा का ज्ञान इस कार्य को आसान बनाता है।

असिस्टेंट रेलवे स्टेशन मास्टर कैसे बने

भारतीय रेलवे पूरे भारत में रेलवे स्टेशन मास्टर के पद पर भर्ती के लिए अधिसूचना जारी करता है। चयन प्रक्रिया के तहत रेलवे भर्ती बोर्ड में रेलवे स्टेशन मास्टर की नियुक्ति के लिए कंप्यूटर आधारित ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की जाती है। लिखित परीक्षा में दो चरणों की प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा होती है, इसके बाद एप्टीट्यूड टेस्ट और अंत में दस्तावेज़ सत्यापन होता है।

Read More: MOBILE ka Full Form Kya Hota Hai

स्टेशन मास्टर की प्रारंभिक परीक्षा में चार विषय होते हैं, जो इस प्रकार हैं –

  • अंकगणित क्षमता
  • सामान्य ज्ञान
  • सामान्य बुद्धि
  • सामान्य अंग्रेजी (वैकल्पिक)

परीक्षा में ऑब्जेक्टिव यानी बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं। परीक्षा कुल 100 अंकों की होती है, इसके लिए अधिकतम समय सीमा 90 मिनट है। प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जाता है।

मुख्य परीक्षा के तहत कुल 120 प्रश्न पूछे जाते हैं, इस परीक्षा के लिए आवंटित समय 90 मिनट है, और कुल 120 अंक हैं।

परीक्षा की तयारी कैसे करे?

  1. गणित और रीजनिंग ऐसे विषय हैं जिनमें रेलवे या किसी अन्य सरकारी नौकरी के लिए आयोजित प्रतियोगी परीक्षा में पूरे अंक प्राप्त किए जा सकते हैं। गणित और रीजनिंग के प्रश्नों को हल करने के लिए फॉर्मूले और ट्रिक्स जानना बहुत जरूरी है, क्योंकि कम समय में प्रश्नों को हल करना फॉर्मूले और ट्रिक्स पर निर्भर करता है।
  2. सामान्य ज्ञान की तैयारी के लिए आप समाचार, समाचार पत्र, इंटरनेट और टीवी के माध्यम से लगातार जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सामान्य ज्ञान के साथ-साथ अन्य विषय भी बढ़त बना सकते हैं। रीजनिंग गणित के अलावा, सामान्य विज्ञान भी पूर्ण अंक प्राप्त करने के लिए एक अच्छा विषय है। अगर आप कोचिंग चुनते हैं तो कोचिंग के बाद घर पर ही रूटीन बनाकर सभी विषयों को समय देना जरूरी है।
  3. परीक्षा की तैयारी के लिए पुस्तकों की आवश्यकता होती है, लेकिन आधुनिक डिजिटल युग में, YouTube वीडियो भी परीक्षा की तैयारी में एक भूमिका निभा रहे हैं। YouTube पर विशेषज्ञ परीक्षा की तैयारी के फॉर्मूले भी बताते हैं। यहां वीडियो के माध्यम से प्रश्नों को हल करने के कई तरीके बताए जाते हैं, साथ ही कई चैनल करेंट अफेयर्स के दैनिक वीडियो शेयर करते हैं, जिससे आप बेहतर तैयारी कर सकते हैं।

स्टेशन मास्टर बनने के लिए आवश्यक गुण

  • स्टेशन मास्टर station master को बेहद धैर्यवान होना चाहिए।
  • शारीरिक सुदृढ़ता, विश्लेषणात्मक दिमाग और सटीक निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए।
  • स्टेशन मास्टर station master के लिए अच्छा संचार कौशल और कंप्यूटर ज्ञान आवश्यक है।
  • अपने अधीनस्थों को संगठित करने के लिए उसके पास अच्छा संगठनात्मक कौशल होना चाहिए।
  • एक स्टेशन मास्टर station master के लिए अनुशासन, समय की पाबंदी और प्रतिबद्धता आवश्यक है।
  • स्टेशन मास्टर station master पद के लिए लीडरशिप क्वालिटी का होना जरूरी है।

रेलवे स्टेशन मास्टर की सैलरी

किसी भी सरकारी कर्मचारी का वेतन पे बैंड के आधार पर निर्धारित होता है। सभी कर्मचारियों का वेतन उनके पद और उसके अनुरूप ग्रेड के अनुसार तय किया जाता है। रेलवे स्टेशन मास्टर के लिए निर्धारित वेतनमान 5200-20200 रुपये है, और 2800 रुपये ग्रेड पे दिया जाता है। इस प्रकार कुल वेतन लगभग 38000 रुपये है।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments